default-logo

Male Sex Problem

DR. V.P. SINGH SPECIALIZATION IN MEN &                      WOMEN SEX PROBLEMS

Men sexual health

 मानसिक तनाव से बढ रही है नपुसंकता दुनिया भर में तनाव के मामले बढ रहे है। इसी तरह से तनाव में कई तरह की बिमारिया हो रही है। जीवन शैली में आज दो ध्वनि प्रदूषण वायु प्रदुषण बदलता मौसम वायु और आदि मानसिक तनाव में मददगार कहते की लोग बहुत कुछ भले पा लेने में सफल हो जाते है। मगर अन्दर तनाव और समस्या घेर लेती है। पुरूषों में बढते तनाव का असर उसकी मर्दानगी पर पड़ जाता है। जिसके कारण लोग अक्सर तनाव दूर करने के लिए शराब, धूम्रपान और नशीली दवाइयां लेते है। विश्व के कई देशो में इसी तरह के नामर्द होने के मामले बढ रहे है। अक्सर अपने भेद के चलते, लोगो को बताते नहीं, जब मामला विस्फोटक हो जाता है हम डाक्टर के पास पहुचते है। डाo सिंह कहते है। कि अपनी शारीरिक क्षमता की जांच करा लेनी चाहिए। शादी के बाद अगर कोई समस्या है तो बेझिझक नामर्दी की जांच करा लेनी चाहिए जिससे वैवाहिक जीवन सुखी रहता है।.

Purely Ayurvedic Treatment

नपुसंकता , शीध्रपतन , घात, शुक्राणु कम औरतो से सैक्स करणोः-

नपुसंकताः-

जीवन संगनी के साथ रहते हुऐ भी लिंग में तनाव नही आना या तनाव का कम आना सैक्स की इच्छाऐ समाप्त हो जाना लिंग में तनाव आकर तुरन्त वीर्य निकल जाना या औरतो के साथ बैठने में वीर्य में चिपचिपा पदार्थ निकलना परन्तु लिंग का उत्थान नही होना इस बिमारी को नपुसंकता या नामर्दी कहते है। यह दुनिया में बहुत बड़ी बिमारी है। इसका इलाज किया जाऐ तो जीवन खुशहाल बन जाता है। लक्षणः- लिंग में तनाव नही आना छोटा होना जीवन साथी को सन्तुष्ट ना कर पाना लम्बे समय से घात स्वपनदोष शीध्रपतन समय पर इलाज का न करवाने से रोग बढता जाता है। समय पर सही इलाज न मिलने पर जीवन बर्बाद हो जाता है। इस बिमारी से परेशान लोग हर वक्त सोचते रहते है। पर सब कुछ धन दौलत होते हुए भी जीवन साथी को सैक्सुअल आनन्द नहीं दे पाते और उल्टा महिलायों को दोषी ठहराया जाता है। महिलाओं की उपेक्षा पुरूषों में यह बिमारी अधिक पायी जाती है तथा शरीरिक एवं मानसिक रूप से कमजोर होते चले जाते है और फिर शराब तथा ध्रुमपान का सेवन करने लगते है। आफिस से घर पर लेट आना और थककर सो जाना मुख्य कारण है। दवाइयां लेने के 72 घण्टे के बाद शारीरिक एवं मानसिक दिमाग सैक्स की तरह से महसूस करने लगगे दवाइयां लेने के बाद पूर्ण इलाज से 50 वर्ष का व्यक्ति भी पहले जैसा यौवन जीवन प्राप्त कर सकता है।
Precaution:-

ध्रूमपान एवं शराब नही पीना आंवला मुरब्बा नहीं खाना है। नानवेज कम खा सकते है।
शारीरिक कारण:-

कब्ज, आतों की गति का कमजोर होना, लीवर और मुत्राश्य में संक्रामक होना, आतो में मलाश्य की मासपेशी कमजोर हो जाती है। शारीरिक श्रम कम करना एक जगह बैठे रहना थायराइड पित्तविकार, मधुमेह उच्च रक्त चाप Heart रोग को बढना तथा स्वप्नदोष आदि बिमारी हो जाती है। जिसका आयुर्वेदिक दवाईयों से सफल इलाज हो सकता है। लिंग में पूरा तनाव न आना कम समय लगना जीवन साथी को सन्तुष्ठ न कर पाना साथी के पास जाने से पतला वीर्य लार की तरह वीर्य का निकलना आदि के लिए सम्पर्क करें। डाo वी0पी0 सिंह वैवाहिक जीवन को जीवन्त एवं रंगीन बनाने के लिए मिलें निराश न हो रोग से मुक्ति पायें। वैवाहिक जीवन को फिर से रंगीन बनायें।
घात, शीध्रपतन , नपुसंकता , स्वप्नदोष, शुक्राणु कम और सैक्स घर बैठे दवाइयां मगवायेः-
अपने रोग के बारे में फोन पर विस्तारपूर्वक call karke दवाइयां मगवाने के लिए एस0बी0आई0 बैंक एका0 नं0 .10468904668 ; IFSC-SBIN0004639 CANT ब्रान्च बरेली के नाम पर रूपये जमा करवा सकते है। रशीद पता फैक्स करें। विदेश में रहने वाले मरीजः- Western Union Transfer Union Many Gram Dr. V.P. Singh के नाम पर रूपये देकर दवाइयां मंगवा सकते है।

DR.V.P.SINGH , SINGH-CLINIC ,ROYAL COLONY, NEAR SATIPUR CHAURAHA, SETTELITE BUS STAND, PILIBHIT BYPASS ROAD, BAREILLY (U.P) -243005 INDIA , Mail-ved332@gmail.com / singhvp429@gmail.com /098373 43729 ; 098370 57107